Read more about the article जिंदगी को बेहतर समझने लगी हूँ
ख्वाब से अब जरा जगने लगी, जिंदगी को बेहतर समझने लगी हूँ ! उड़ती थी शायद कभी ऊंची हवा में, जमीन पर अब पैदल चलने लगी हूँ ! लफ्जों की अब मुझको जरूरत नहीं है, चेहरों को जब से मैं पढ़ने लगी हूँ ! दुनिया के बदलते रंगों को देखकर, शायद में कुछ-कुछ बदलने लगी हूँ ! परवाह नहीं कोई साथ चले मेरे हमदम , मैं अकेले ही आगे बढ़ने को मचलने लगी हूँ ! कोई समझे या ना समझे मुझे अब फर्क नहीं, शायद जिंदगी को पहले से बेहतर मैं समझने लगी हूँ !

जिंदगी को बेहतर समझने लगी हूँ

Best life poem in Hindi ख्वाब से अब जरा जगने लगी, जिंदगी को बेहतर समझने लगी हूँ ! उड़ती थी शायद कभी ऊंची हवा में, जमीन पर अब पैदल चलने…

Continue Readingजिंदगी को बेहतर समझने लगी हूँ
Read more about the article Happy Holi Poems: Top 5 great Holi poems in hindi
Happy Holi Poems: Top 5 great Holi poems in hindi

Happy Holi Poems: Top 5 great Holi poems in hindi

holi poem in hindi दोस्तों हमारी आज की इस पोस्ट में हम होली की 5 सबसे अच्छी कविताओं के बारे में पढ़ेगे हम आशा करते है की हमारी ये मेहनत…

Continue ReadingHappy Holi Poems: Top 5 great Holi poems in hindi
Read more about the article धारा 370 ने ये, ये फितूर बनाकर छोड़ा है
370 dhara par kavita

धारा 370 ने ये, ये फितूर बनाकर छोड़ा है

धारा 370 ने ये, ये फितूर बनाकर छोड़ा है ! साडी कश्मीरी घाटी को, नासूर बनकर छोड़ा है !! कल तक थी धरती की जन्नत, अब दहशत की परपाटी है…

Continue Readingधारा 370 ने ये, ये फितूर बनाकर छोड़ा है
Read more about the article निष्कर्ष कविता – किशोर विमल
nishkarsh poem kisne write ki hai

निष्कर्ष कविता – किशोर विमल

ज़िंदगी जब कटी पतंग हो, क्या हो जीने का अंदाज़ ? बिखर जाएं अरमान सभी, हो कैसे हंसने का आगाज़ ? आकांक्षाओं की धूल से लिपटे, जीवन के वे धुंधले…

Continue Readingनिष्कर्ष कविता – किशोर विमल
Read more about the article Jaun Elia
Jaun elia poems, read jaun elia

Jaun Elia

हालत-ए-हाल के सबब, हालत-ए-हाल ही गई शौक़ में कुछ नहीं गया, शौक़ की ज़िंदगी गई ... ... एक ही हादिसा तो है और वो ये के आज तक बात नहीं…

Continue ReadingJaun Elia
Read more about the article मै हमारी मोहब्बत पर एक किताब लिखूंगा
Me hamari mohabbat par ek kitaab likhunga

मै हमारी मोहब्बत पर एक किताब लिखूंगा

मै हमारी मोहब्बत पर एक किताब लिखूंगा... जहा जहा तुझे लिखूँगा वह वह ख़्वाब लिखूंगा... अपने ख्याल लिखूंगा...हमारी पहली मुलाक़ात लिखूंगा... और तेरे बिना जो कटे दिन...में उन दिनों का…

Continue Readingमै हमारी मोहब्बत पर एक किताब लिखूंगा
Read more about the article ये मेरा सुखी परिवार
ye vo hai jo aapakee harek samasya me

ये मेरा सुखी परिवार

ये वो है जो आपकी हरएक समस्या मे हमेशा आपके साथ अकेले खड़े होंगे। और हाँ आपके हरएक गलती की वो! आपको हमेशा माफ़ी भी जरुर दे देंगे। हाँ माना…

Continue Readingये मेरा सुखी परिवार

वो एक ख़्वाब जो पूरा न हो सका

नींदें मुझे रातों में जब, मेरी ना होकर सताती थी ! उसकी तस्वीरें देखता मैं, वही मुझे सुलाती थी ! करता खुद से मैं उसकी बातें, वो जैसे सुन जाती…

Continue Readingवो एक ख़्वाब जो पूरा न हो सका
Read more about the article तुम चाँद बनो, हम रात बनें
tum chaand bano, ham raat banein || love shayri

तुम चाँद बनो, हम रात बनें

तुम चाँद बनो, हम रात बनें तुम गीत बनो ,हम साज़ बनें छू न लें क्यूँ, हम उस बादल को तुम पँख बनो, हम परवाज़ बनें ढल जाएं चलो,इक साँचे…

Continue Readingतुम चाँद बनो, हम रात बनें